ब्रेकिंग न्यूज़

 उम्र छिपाने वाले क्रिकेटरों को BCCI ने दिया गलती सुधारने का मौका
नई दिल्ली : बीसीसीआई ने भारतीय क्रिकेट में उम्र और मूल निवास संबंधी धोखाधड़ी रोकने के लिए सख्त कदम उठाए हैं। हालांकि, उसने ऐसा फर्जीवाड़ा करने वाले खिलाड़ियों को गलती सुधारने का एक मौका भी दिया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 2020-21 सीजन के लिए अपनाए गए नए उपायों के तहत Voluntary Disclosure Scheme (स्वैच्छिक प्रकटीकरण योजना) लागू की है।

इस योजना में कहा गया है कि ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने पूर्व में अपनी जन्मतिथि में हेरफेर किया है या फिर फर्जी आयु प्रमाण पत्र जमा किया है, यदि वे स्वैच्छिक रूप से गलती स्वीकार करते हैं तो उन्हें निलंबित नहीं किया जाएगा। यदि वे अपनी वास्तविक जन्मतिथि का खुलासा करते हैं तो उन्हें उपयुक्त आयु वर्ग में हिस्सा लेने की मंजूरी भी दी जाएगी।

सोमवार को बीसीसीआई की ओर से जारी बयान के मुताबिक, खिलाड़ियों को 15 सितंबर 2020 से पहले अपनी वास्तविक जन्मतिथि का खुलासा करना होगा। इसके लिए उन्हें सपोर्टिंग डाक्युमेंट्स (संबंधित दस्तावेजों) के साथ एक हस्ताक्षरित पत्र/ईमेल बीसीसीआई के आयु सत्यापन विभाग को भेजना होगा।

बयान के मुताबिक, यदि पंजीकृत खिलाड़ी तथ्यों का खुलासा नहीं करते हैं और बीसीसीआई द्वारा नकली/हेरफेर किए गए जन्मतिथि दस्तावेजों को जमा करने के दोषी पाए जाते हैं, तब उन्हें 2 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। दो साल का निलंबन पूरा होने के बाद भी उन्हें BCCI के साथ-साथ राज्य क्रिकेट बोर्डों द्वारा आयोजित किसी भी आयु वर्ग वाले टूर्नामेंट में हिस्सा लेने की मंजूरी नहीं दी जाएगी।

बयान में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की ओर से कहा गया है, हम सभी आयु समूहों में एक समान प्लेइंग फील्ड प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। बीसीसीआई उम्र में धोखाधड़ी रोकने के लिए कड़े कदम उठा रहा है। आगामी घरेलू सीजन में भी सख्त उपायों की शुरुआत हो रही है। जो लोग स्वेच्छा से अपने खराब आचरण का खुलासा नहीं करेंगे, उन्हें दंडित किया जाएगा। नए नियम 2020-21 सीजन से लागू होंगे।
 
डोमिसाइल फ्रॉड (मूल निवास में धोखाधड़ी) रोकने के लिए भी बीसीसीआई ने सख्त कदम उठाया है। बयान के मुताबिक, डोमिसाइल फ्रॉड करने वाले क्रिकेटरों पर 2 साल का प्रतिबंध लगाया जाएगा, चाहे वे सीनियर पुरुष या महिला खिलाड़ी ही क्यों न हों। Voluntary Disclosure Scheme डोमिसाइल फ्रॉड करने वाले क्रिकेटरों पर लागू नहीं होगी।
 

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement