ब्रेकिंग न्यूज़

 अमेरिका: चीनी शोधकर्ता को वीजा धोखाधड़ी मामले में हिरासत में लिया
नई दिल्ली : चीन की एक शोधकर्ता को चीनी सेना के साथ संबंधों की जानकारी वीजा आवेदन में नहीं देने के आरोप में उत्तरी कैलिफोर्निया की जेल में बंद किया गया है और उसे सोमवार को संघीय अदालत में पेश किया जा सकता है।

सैक्रामेंटो काउंटी जेल के रिकॉर्ड के अनुसार जुआन तांग (37) को अमेरिकी मार्शल सेवा ने गिरफ्तार किया है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि उसके पास कोई वकील है अथवा नहीं जो उसकी तरफ से बयान दे सके।

न्याय मंत्रालय ने गुरुवार को तांग और अमेरिका में रह रहे तीन अन्य वैज्ञानिकों के खिलाफ आरोपों की घोषणा करते हुए कहा कि उन्होंने चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी के सदस्य के अपने दर्जे को छिपाया। सभी पर वीजा धोखाधड़ी के आरोप लगाए गए हैं। तांग की गिरफ्तारी चारों में सबसे बाद में हुई है। इससे पहले न्याय मंत्रालय ने सैन फ्रांसिस्को में चीन के वाणिज्य दूतावास पर एक भगोड़े को शरण देने का आरोप लगाया था।
 
इस संबंध में जानकारी पाने के लिए महावाणिज्य दूतावास को किए गए ईमेल अथवा फेसबुक संदेश का कोई जवाब नहीं मिला। न्याय मंत्रालय ने कहा कि तांग ने कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में काम करने की योजना के लिए पिछले साल अक्टूबर में जो वीजा आवेदन दिया था उसमें सेना के साथ अपने संबंधों के बारे में झूठ बोला था और इसके कई महीनों बाद एफबीआई साक्षात्कार में भी इस बारे में झूठ बोला।
 
ऐजेंट को तांग की तस्वीरें मिली हैं जिसमें वह सेना की वर्दी में है और चीन में लेखों की समीक्षा में सेना के साथ उसके संबंधों का पता चला है।

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement