ब्रेकिंग न्यूज़

दुर्ग : स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने लिया धमधा ब्लॉक में सघन कोरोना सर्वे अभियान का जायजा
दुर्ग : जिले में सघन कोरोना सर्वे अभियान 5 अक्टूबर से 12 अक्टूबर तक स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाया गया था । इस दौरान शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में 3.17 लाख घरों में  कोविड-19 से सम्बंधित लक्षण वाले मरीजों की पहचान की गयी  है।
 
इस कार्य में जिले की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन व महिला पुलिस स्वयंसेविकाओं ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए सर्दी-खांसी के लक्षण वाले 2,897 लोगों की पहचान की हैं। सर्वे टीम ने 2,842 लोगों की एंटीजन टेस्ट कराया जिसमें 218 कोविड-19 पॉजेटिव लोग मिले।  सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया 2,030 संभावित लक्षणों वाले लोगों का सेम्पल आरटीपीसी टेस्ट के लिए भेजा गया है।

उन्होंने बताया दुर्ग जिले के कुछ शहरी क्षेत्रों में अभी सर्वे का कार्य जारी है | जल्द हीयह  कार्य एक दो दिन में पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए स्थानीय स्वास्थ्य अमला द्वारा कोरोना से निपटने के लिए घर-घर सघन सर्वे में कोविड-19 से सम्बंधित लक्षण वाले लोगों की जानकारियां जुटाई जा रही हैं।
 
सर्वे टीम के द्वारा उच्च जोखिम वाले-60 वर्ष से अधिक, गर्भवती महिला, 5 वर्ष के कम आयु के बच्चे, उच्च रक्तचाप, डायबीटीज से ग्रसित व्यक्ति के 506 लोगों का सेम्पल भी जांच के लिए भेजे गए हैं।

सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया, आज धमधा ब्लॉक के मेडेसरा उप स्वास्थ्य केंद्र व ग्रामीणों से मुलाकात कर कोरोना सर्वे से संबंधित जानकारी ली गयी । वहीं मैदानी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को उच्च जोखिम वाले मरीजों की पहचान के बाद लगातार ग्रामीणों से संपर्क बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।
 
सीएमएचओ डॉ. सिंह के साथ स्वास्थ्य विभाग के डिप्टी डायरेक्टर डॉ योगेश शर्मा के साथ कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए किए जा रहे प्रयासों व गतिविधियों का जायजा लिया गया। वही स्वास्थ्य विभाग की एक्टीव सर्विलेंस टीम को उच्च जोखिम वाले लोगों के स्वास्थ्य के प्रति अतिरिक्त सावधानियां बनाए रखने का निर्देश भी दिया गया।

उन्होंने कहा कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए गंभीर रोगों से पीड़ित व्यक्तियों में सर्दी, खांसी, बुखार व गले में खराश जैसे लक्षण वाले लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग मास्क लगाने , बाहरी व्यक्तियों के दूरी बनाए रखने के बारे में बताया जा रहा है। बुजुर्गो की देखभाल में परिवार के सदस्यों को सावधानियों के साथ ही खान पान में विशेष ध्यान रखने  की समझाईश भी दी जा रही है।
 
सीएमएचओ ने लोगों से कहा घर –घर पहुंचने वाले सर्वे दल को स्वास्थ्य की सही जानकारी देकर  सघन कोरोना सर्वे सामुदायिक संक्रमण को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं । कोरोना पॉजिटिव लोगों की जल्द पहचान से ही संक्रमण को रोकने में मदद मिलेगी ।

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement