ब्रेकिंग न्यूज़

ब्रेस्ट कैंसर के प्रति जागरुक करने को महिला समूह, मितानिन व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने लिया संकल्प

 जांजगीर-चांपा : ब्रेस्ट कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से प्रति वर्ष अक्टूबर को स्तन कैंसर जागरूकता माह के रूप में मनाया जाता है। स्तन कैंसर के प्रति जागरूकता के लिए ग्रामीण स्तर पर महिला संगठनों में स्वसहायता समूह, मितानिन व आंगनबाडी कार्यकर्ता भी आगे बढकर अभियान चला रही हैं।

13 अक्टूबर से  स्तन कैंसर माह को मनाने के लिए आज जाजंगीर-चांपा जिले के पामगढ ब्लॉक स्थित ग्राम पंचायत मेंऊ की महिलाओं ने नरसिंह चौक मुहल्ले की चौपाल में एक बैठक का आयोजन किया।

आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 3 नरसिंह चौक मेंऊ की कार्यकर्ता सावित्री दिनकर ने बताया, स्तन कैंसर पुरुषों और महिलाओं दोनों को हो सकता है, परन्तु यह महिलाओं में अधिक होता है। कई कारणों से स्ततनों में बढ़ने वाली असामान्य  कोशिकाएं कभी कभी गांठ का रूप ले लेती हैं जो आगे चलकर कैंसर में परिवर्तित हो सकती हैं ।

उन्होंने कहा, ब्रेस्ट में गांठ या स्थानीय चमड़ी मोटी होना जो आसपास से अलग दिखना, ब्रेस्ट के आकार या स्वरूप में बदलाव, ब्रेस्ट त्वचा में परिवर्तन, जैसे कि डिंपलिंग, उल्टां निप्पल, निप्पल के आस-पास की त्वचा का छिलना, स्केलिंग, क्रस्टिंग या फ्लेकिंग लाल होना या निप्पल खड़ा होना ब्रेस्टं कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने महिलाओं को बताया,यदि बीमारी के लक्षण के बारे में समय रहते पता चल जाए तो इसका उपचार हो सकता है। ऐसी स्थिति में मितानिन और एएनएम से लक्षण के बारे में चर्चा कर नजदीक के अस्पताल में चिकित्सकीय परामर्श व इलाज कराया जा सकता है |इसके हेतु समुदाय में जागरुकता लाने के लिए मितानिन व स्वसहायता समूहों की महिलाएं मुहल्ले में लगभग 250  घरों में पहुंच कर परिवार के महिला सदस्यों से भागीदारी निभाने के लिए प्रेरित करेंगी।

इस मौके पर मितानिन शशी बंजारे व रमशीला टंडन ने बताया, नरसिंह चौक मुहल्ले में लगभग 15 से 50 साल तक 200 से अधिक महिलाओं व किशोरियों को माहवारी स्वच्छता अभियान से जोड़ा जाएगा। स्वस्थ्य नारी–स्वस्थ्य परिवार बनाने को मितानिन दीदी ने स्वच्छ माहवारी के लिए सेनेटरी पेड का इस्तेमाल करने की शपथ दिलाई । अब हर बेटी,बहु व महिला के सम्मान के लिए हर नारी को एक कदम आगे बढ़ाने की जरुरत है। वहीं बैठक में बी स्माइल फाउंडेशन सोसाइटी के ब्लॉक समन्वयक संजय कुमार साहू ने बताया, उनकी संस्था महिलाओं को बी स्माइल फाउंडेशन के माध्यम से 12 महीने के लिए 300 रुपए में 72 सेनेटरी पेड का सेट उपलब्ध कराएगी।

 अनिल कुमार साहू  ने बताया महिलाओं में जागरुकता की कमी के कारण माहवारी के दौरान सैनेटरी पेड का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। इसलिए यह करने के लिए महिलाओं व युवतियों को समूह की महिला गृहभेंट कर प्रेरित कर रहीं हैं। इस दौरान  माहवारी के समय परंपरागत संसाधनों के बदले सेनेटरी पेड को स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित एवं ज्यादा हितकारी होने की जानकारी भी दी गयी ।

बैठक में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए स्वच्छता पर ध्यान देने के बाद महिलाओं को ब्रेस्ट  कैंसर जैसे बीमारियों और सवाइकल कैंसर के बारे में भी बताया गया। इस मौके पर नरसिंह चौक आंगनबाड़ी केंद्र की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सावित्री दिनकर , सहायिका तीजमती दिनकर और जय माँ चंद्रहासिनी महिला स्वसहायता समूह की अध्यक्ष मैना बाई लहरे, सम्मेबाई लहरे, तीज बाई दिनकर, मालती दिनकर, सचिव उषा रोही दास और कल्याणी महिला स्वसहायता समूहकी अध्यक्ष नन्दनी खांडे, सचिव दामिनी जांगड़े, मनीषा बंजारे, रामकुमारी बंजारे, कुमारी रोहिदास, मुकनी सोनवानी व कांति सोनवानी भी उपस्थित रही।

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement