ब्रेकिंग न्यूज़

मौसमी बीमारियों से बचाव हेतु पशुओं में किया जा रहा है टीकाकरण
द न्यूज़ इंडिया समाचार सेवा
 
बलरामपुर : पशुधन विकास विभाग द्वारा वर्षा ऋतु में होने वाली बीमारियों से बचाव व उसके उपाय हेतु विभिन्न विकासखण्डों के ग्रामों में शिविर के माध्यम से जानकारी दी जा रही है। वर्षा ऋतु में पशुओं में एकटंगिया व गलघोटू बीमारी होने की भी संभावना रहती है, इसलिए विभाग द्वारा जिले के सभी विकासखण्डों में टीकाकरण का कार्य जारी है। वर्तमान में जिले में लगभग 01 लाख पशुओं में उक्त बीमारी का टीकाकरण कार्य पूरा हो चुका है। इसी प्रकार सूकरों में गीलापन के कारण व अन्य संक्रामक बीमारी के कारण भी मृत्यु की संभावना रहती है, इससे बचाव के लिये स्वाईन फीवर नामक टीका का टीकाकरण किया जा रहा है।
 
ग्राम के शिविरों में रोगों से बचाव हेतु सुझाव भी दिया जा रहा है, कि बरसात होनें पर पशुओं को खुले मैदान पर न छोड़ें, उसे किसी घर या छायादार स्थान पर हीं बांधे। पशुओं को भीगनें न दिया जाए, पशुओं को संक्रामक रोगों से बचानें हेतु टीकाकरण करवाएं तथा खुले में पशुओं को न छोड़ने की भी सलाह दी जा रही है। छोटे पशु जैसे बकरियों में बरसात के मौसम में हवा में नमी के कारण विषाणु बहुत तेजी से फैलते हैं, इस कारण विभाग द्वारा बकरियों में भी टीकाकरण का कार्य कराया जा रहा है। वर्तमान में अभी तक लगभग 1.15 लाख बकरियों में टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है तथा टीकाकरण का कार्य निरन्तर जारी है।
 

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Facebook