ब्रेकिंग न्यूज़

 ‘‘गुड गवर्नेंस इन एडमिनिस्ट्रेषन ऑफ मनरेगा को लेकर कार्यशाला
जशपुरनगर : 26 जून 2019 दिन बुधवार को जिला पंचायत के सभागार में ‘‘गुड गवर्नेंस इन एडमिनिस्ट्रेषन ऑफ मनरेगा’’ विषय पर एक दिवसीय जिला स्तरीय कार्यषाला का आयोजन किया गया। कार्यषाला में जिला पंचायत सीईओ राजेन्द्र कुमार कटारा एवं वनमण्डलाधिकारी श्री कृष्ण जाधव की विशेष मौजूदगी में आयोजित इस कार्यषाला में गुड गवर्नेंस के अंतर्गत ग्राम पंचायतों में महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत वर्क फाइल/केस रिकार्ड को तैयार करने एवं दस्तावेजों के संधारण में एकरूपता लाने के उद्देष्य से केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा जारी सांकेतिक फ्रेमवर्क के प्रभावी क्रियान्वयन के संबंध में प्रषिक्षण प्रदान किया गया। 

कार्यशाला में बताया गया कि जॉबकार्ड, केस रिकार्ड/वर्क फाईल/07 पंजी संधारण, नागरिक सूचना पटल के संबंध में शासन द्वारा जारी निर्देषों का पालन कर ग्राम पंचायत/जनपद पंचायत स्तर पर इसकी क्रियान्वयन सुनिष्चित कराना है। प्रषिक्षण में जनपद पंचायत स्तर के गुड गवर्नेंस ब्लॉक रिसोर्स पर्सन को प्रषिक्षित किया गया। जनपद पंचायत स्तर पर होने वाले प्रषिक्षण में जिला स्तरीय ट्रेनर्स ग्राम पंचायत स्तर के रोजगार सहायक/सचिवों को प्रषिक्षित करेंगे। 
\"\"

कार्यषाला में जिला पंचायत सीईओ द्वारा सभागार में उपस्थित अधिकारियों/कर्मचारियों को संबोधित करते हुए पूर्व के कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर शेष ग्राम पंचायतों का डी.पी.आर. समय पर पूर्ण करने हेतु निर्देषित किया गया और साथ ही इस बात पर जोर दिया गया कि आगामी वर्षा के मौसम को देखते हुए हमें एन.आर.एम. आधारित ऐसे कार्यों को प्रमुखता से करना है जिससे जल संवर्धन के साथ-साथ भू-जल स्तर में भी वृद्धि हो, साथ ही शासन द्वारा जारी सांकेतिक फ्रेमवर्क का उपयोग कर सुषासन को लागू करना है। पंचायत स्तरीय व्यवस्था में रोजगार गारंटी ग्रामीण व्यक्तियों के लिए रोजगार का एक महत्वपूर्ण स्त्रोत है। अतः नरेगा अंतर्गत दस्तावेज संधारण में एकरूपता लाने हेतु हमें मिलकर कार्य करना है। जिला/जनपद पंचायत स्तर से सतत् मार्गदर्षन के निगरानी में ग्राम पंचायत में इसके प्रभावी क्रियान्वयन कराना है। कार्यशाला में आरईएस के कार्यपालन अभियंता, सहायक परियोजना अधिकारी, समस्त जनपद पंचायतों के कार्यक्रम अधिकारी, आरईएस के अनुविभागीय अधिकारी, उपअभियंता/तकनीकी सहायक, मनरेगा अंतर्गत सर्व क्रियान्वयन एजेंसी के कर्मचारी एवं अधिकारी  उपस्थिति थे।
 

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement