ब्रेकिंग न्यूज़

बेमेतरा : राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानों का पंजीयन प्रारंभ

 द न्यूज़ इंडिया समाचार सेवा 

 
बेमेतरा : बेमेतरा जिला में खरीफ 2021 में फसल उत्पादन को प्रोत्साहित करने एवं कृषकों को कृषि आदान सहायता प्रदाय किये जाने हेतु राजीव गांधी किसान न्याय योजना में पंजीयन 01 जून से प्रारंभ हो चुका हैं। इसके अंतर्गत कृषि फसल उत्पादन के लिये आवश्यक आदान जैसे उन्नत बीज, उर्वरक, कीटनाशक, यांत्रिकीकरण एवं नवीन कृषि तकनीकी में कृषकों को पर्याप्त निवेश करने हेतु प्रोत्साहित करने एवं कास्त लागत में राहत देने हेतु राज्य शासन द्वारा कृषि आदान सहायता देने का प्रावधान किया गया है।

        उप संचालक कृषि ने बताया कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना खरीफ 2021 से लागू की गयी है। इसके अंतर्गत धान के साथ खरीफ की प्रमुख फसले जैसे मक्का, कोदो-कुटकी, सोयाबीन, अरहर तथा गन्ना उत्पादक कृषकों को प्रतिवर्ष राशि रू. 9000 प्रति एकड़ आदान सहायता राशि दी जावेगी। इसी प्रकार खरीफ वर्ष 2020 में जिस रकबे से किसान द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान विक्रय किया था, यदि वह धान के बदले कोदो-कुटकी, गन्ना, अरहर, मक्का, सोयाबीन, दलहन, तिलहन, सुगंधित धान, अन्य फोर्टिफाइड धान, केला, पपीता लगता है अथवा वृक्षारोपण करता है, तो उसे प्रति एकड़ रू. 10 हजार रुपये आदान सहायता राशि दी जायेगी। वृक्षारोपण करने वाले कृषकों को 3 वर्षो तक आदान सहायता राशि दी जायेगी। इस योजना अंतर्गत कृषको का पंजीयन 01 जून से 30 सितंबर तक किया जायेगा।

        किसान भाईयों को अपने ग्राम के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी (ग्राम सेवक) के माध्यम से पंजीयन फार्म लेकर भरे हुये आवेदन के साथ आवश्यक दस्तावेज जैसे ऋण पुस्तिका, बी-1, आधार कार्ड एवं बैंक पासबुक की छायाप्रति संलग्न कर अपने ग्राम के संबंधित सेवा सहकारी समिति में निर्धारित समय-सीमा के भीतर फार्म जमा कर पंजीयन करवाना होगा। कृषक आवेदन की पावती सेवा सहकारी समिति से प्राप्त कर सकेगा।
 

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़