ब्रेकिंग न्यूज़

 RBI का रेपो रेट स्थिर, पर इस बैंक ने दी अपने ग्राहकों को बड़ी खुशखबरी दी

नई दिल्ली : रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी मौद्रिक समीक्षा बैठक से बाद रेपो रेट में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं किया है। रेपो रेट में बदलाव न होने से सस्ते लोन की उम्मीद खत्म हो गई। जहां आरबीआई ने नीतिगत ब्याज दरों में कोई बदलाव न करते हुए उसे स्थिर रखा है तो वहीं सार्वजनिक क्षेत्र के केनरा बैंक ने अपने ग्राहकों को बड़ी खुशखबरी दी है। बैंक ने अपने कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दर में कटौती की है।

केनरा बैंक ने दी बड़ी खुशखबरी केनरा बैंक ने एमसीएलआर दरों में कटौती कर अपने ग्राहकों को राहत दी है। बैंक ने MCLR दर में 30 बेसिक प्वाइंट की कटौती की है। केनरा बैंक ने शेयर बाजार को इसकी जानकारी देते हुए कहा है कि हर टेन्योर के लिए MCLR की दरों में 0.3 फीसदी की कटौती की गई है। बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 1 दिन और एक महीने के लोन पर ब्याद दर में कटौती कर अब 7 पीसदी कर दिया है। वहीं 3 महीने के लिए एमसीएलआर को 7.45 फीसदी से घटाकर 7.15 फीसदी कर दिया गया है। वहीं केनरा बैंक ने 6 महीने के एमसीएलआर को 7.50 प्रतिशत से घटाकर 7.40 फीसदी कर दिया गया है। जबकि 1 साल के लिए एमसीएलआर को 7.55 फीसदी से घटाकर 7.45 फीसदी कर दिया गया है।

कब से लागू होंगी नई दरें बैंक द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक नई दरें 7 अगस्त से लागू हो जाएंगी। आपको बता दें कि केनरा बैंक द्वारा MCLR दरों में बदलाव किए जाने के बाद कर्जदारों का बोझ कम होगा। आपकी EMI कम हो जाएगी। गौरतलब है कि RBI ने मौद्रिक समीक्षा में ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखा। केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया, हालांकि आरबीआई ने कहा कि अगर भविष्य में जरूरत पड़ी तो वह दरों में कटौती की जा सकती है। आरबीआई ने इस बार रेपो रेट को 4 फीसदी पर बरकरार रखा है।

अर्थव्यवस्था के पटरी पर लौटने की उम्मीद कम आरबीआई गवर्नर ने जहां रेपो रेट को 4 फीसदी पर बरकरार रखा तो वहीं ये भी कहा कि आने वाले वक्त में अर्थव्यवस्था के पटरी पर लौटने की उम्मीद अभी भी कम ही है और ये बुरी खबर इसलिए है क्योंकि कोविड-19 काे मामलों में कमी की बजाए बढ़ोतरी हो रही है।
 

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement