ब्रेकिंग न्यूज़

 मुकेश अम्बानी की कम्पनी को एक और फंडिंग, अब Intel Capital ने किया 1,894 करोड़ रुपये का निवेश
मुंबई : रिलायंस जियो को Intel Capital के तौर पर अब 12वां निवेशक मिल गया है। दिग्गज टेक कंपनी Intel की सहायक फर्म इंटेल कैपिटल ने कंपनी में 1,894.50 करोड़ रुपये का निवेश कर 0.39 फीसदी की हिस्सेदारी ली है। दोनों कंपनियों की ओर से शुक्रवार को इसकी पुष्टि की गई है। रिलायंस जियो की इक्विटी वैल्यू 4.91 ट्रिलियन रुपये आंकी गई है, जबकि इंटरप्राइज वैल्यू 5.16 ट्रिलियन रुपये है। बीते करीब तीन महीने से भी कम के दौर में रिलायंस जियो में यह 12वां निवेश है। इस तरह से रिलायंस जियो को अब तक 1,17,588.45 करोड़ रुपये का निवेश हासिल हो चुका है।

इंटेल कैपिटल से डील को लेकर मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत की क्षमताओं को बढ़ाने के लिए हम इंटेल कैपिटल के साथ मिलकर काम करने को लेकर उत्साहित हैं। इससे तकनीकी तौर पर हम सक्षम होंगे और अर्थव्यवस्था के सभी सेक्टर्स को मजबूती मिलेगी। यही नहीं इस सुधार से 1.3 अरब भारतीयों का जीवन स्तर भी सुधरेगा। इंटेल कैपिटल ने दुनिया भर में क्लाउड कम्प्यूटिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और 5जी तकनीक के क्षेत्र में काम करने वाली कंपनियों में निवेश किया है।

बता दें कि हाल ही में निवेश करने वाली वैश्विक कंपनियों में से सबसे पहले फेसबुक ने 43,574 करोड़ रुपये का निवेश कर 9.99 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदी थी। इसके बाद सिल्वर लेक पार्टनर्स, विस्टा इक्विटी, जनरल अटलांटिक, केकेआर, मुबादला, सिल्वर, टीपीजी, पीआईएफ और इंटेल जैसी कंपनियों ने निवेश किया है।

गौरतलब है कि रिलायंस जियो ने बीते तीन साल में ही इन्फोसिस, एचडीएफसी और एसबीआई जैसी कंपनियों को पछाड़ दिया है। मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में रिलायंस जियो दिग्गज एफएमसीजी कंपनी आईटीसी को भी पीछे छोड़ दिया है। गौरतलब है कि रिलायंस जियो में हासिल किए गए इस निवेश के जरिए मुकेश अंबानी को अपने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड समूह के कर्ज को उतारने में मदद मिली है।

 

Related Post

Leave A Comment

छत्तीसगढ़

Advertisement